कुन्थुश्रीजी एवं पीयूषप्रभाजी की इचलकरंजी से शुरू हुई सह-यात्रा हुबली पहुँची

हुबली. दि. 04.04.2012.
प्रस्तुति  - संजय वैदमेहता, इचलकरंजी, मुकेश जैन हुबली.


साध्वी श्री कुन्थुश्रीजी आदि ठाना ४ एवं साध्वी श्री पीयूषप्रभाजी आदि ठाना ४  ने इचलकरंजी से गुरु इंगित का पालन करते हुए साथ में विहार किया था. आज दोनों सिंघाडो ने  हुबली में प्रवेश किया. यह सह-यात्रा का अंतिम पड़ाव है. हुबली में महावीर जयन्ती संपन्न कर साध्वी श्री कुंथुश्री जी आदि ठाना ४ आगामी चातुर्मास हेतु बेलारी की ओर एवं साध्वी श्री डा. पीयूषप्रभाजी  आगामी चातुर्मास हेतु बैंगलोर की ओर विहार करेंगे.   


No comments:

Post a Comment